Shayari (18738)

उन्हें शिकायत है हमसे हम उनसे❤ मोहब्बत नहीं करते#@कोई बताए उन्हें इस तरह किसी का दिल दुखाया नहीं करते...😒

#वक्त वक्त की बात है...साहब
और वक्त ही नहीं तुम्हें अपना बनाने का...❤

वो खड़ा था वहां किसी अपने के साथ...
में गुजर रही थी करीब से...
उसने देखा ना मुझे एक बार भी... मैं पिघल रही थी जमीर से...
मैंने देखा उसको पीछे मुड़कर...
वो समझे नहीं बेचैनी मेरी.....
एक मोड़ पर मैं रुक गई....
वह चले गए अपनों के साथ...

*तज़ुर्बे ना पूछो ज़िंदगी के*

*उम्र शर्मिंदा हो जाएगी*.............

 
148
 
2 days
 
Ajaj Chanderi

मैं बाज़ार चला था ग़मों की पोटली बेचने ,
बदले में ख़ुशी बस मुट्ठी भर ही मिली ।।

ऐ खुदा हो सके तोह आंसुओ के रास्ते मोड़ दे ।
मेरे चेहरे पे उनको अच्छे नही लगते ।।

हो सके तो खुदा मुझपे इतना करम फ़रमा देना .....
याद आए जिसे मेरी उसे टूटता तारा दिखा देना ....

 
174
 
3 days
 
Abhilekh.......

दिल पत्थर , आँखें बंजर सपने सारे टूट गए ...
चले थे होने मशहूर , गुमनाम से हो गए ......

 
100
 
3 days
 
Abhilekh.......

ना बची आरज़ू कोई और अरमान भी ख़त्म हो गए ...
सोचे भी तो क्या सोचे सारे ख़याल भी ख़त्म हो गए ...

 
86
 
3 days
 
Abhilekh.......

उनसे मुलाकात हुई आज बरसो बाद
फिर बरसो बाद हमने धड़कन महसूस की

 
92
 
3 days
 
Vidhayak_Apurv
LOADING MORE...
BACK TO TOP