Shayari (19445)

आइने में मेरे ....अक्सर जो अक्स नज़र आता है ....
ख़ुद से लड़ता हुआ एक शख़्स नज़र आता है ...
क्या पता किस बात से ख़ुद से इतना ख़फ़ा है ....
हर वक़्त बड़ा उदास सा नज़र आता है ....

 
21
 
10 hours
 
Abhilekh.......

काश...
हमारी भी कोई सुन ने वाला होता

तो आज हम, दिल की बात यूँ शायरीयों पर बयां ना करते...

 
26
 
13 hours
 
Anil SA

होंठो ने तेरा ज़िक्र न किया पर मेरी आंखे तुझे पैग़ाम.देती है...!!
💕💕
हम दुनियाँ' से तुझे छुपाएँ कैसे मेरी हर शायरी तेरा ही नाम लेती है...!!💕💕

 
27
 
a day
 
Anil SA

ना छेड किस्सा ये बडी लम्बी कहानी है.....

जो गैरों से नहीं हारा.....उसकी हार तो किसी अपने की मेहरबानी है...✍🏻✍🏻✍🏻

 
48
 
2 days
 
Anil SA

*लफ्जों से इतना आशिकाना ठीक नहीं है ज़नाब.....!!*

*किसी के दिल के पार हुए तो इल्जाम क़त्ल का लगेगा.....!!*🌹

 
73
 
4 days
 
Anil SA

हम तो तेरे दिल की महफ़िल सजाने आए थे
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आए थे

किस बात की सजा दी तुने हमको बेवफा
हम तो तेरे दर्द को अपना बनाने आए थे

 
28
 
4 days
 
Anil SA

मोहब्बत की "बारिशों" से कहो ज़रा "ज़ोर" से बरसे...


नफरतों के "आईनों" पर बड़ी "धूल" जमी है...

 
81
 
5 days
 
Anil SA

प्यार के दामन में लिपटे हम कहाँ तक आ गए
हम नज़र तक चाहते थे,तुम तो दिल पर छा गए।

 
52
 
5 days
 
"Chaand"

दरमियाँ ... चाहे इश्क़ हो , अश्क़ हो , रश्क हो

शर्त बस इतनी है ..... जो भी हो सच हो

 
116
 
8 days
 
anika

हयात इक मुस्तक़िल ग़म के सिवा कुछ भी नही शायद
खुशी भी याद आती है तो आंसू बनके आती है।

 
28
 
9 days
 
"Chaand"
LOADING MORE...
BACK TO TOP