Shayari (19120 | sorted randomly)

Tuje yaad karte rehta hoon mai din bhar. Thu aaa na samaj na ke muje kuch kham nai hain
Muje sirf tuje yaad karna he sab se bada kham hai

 
92
 
225 days
 
fzshaik

ऐ मोहब्बत तू शर्म से डूब मर,
एक शख्श को तू मेरा ना कर सकी..

 
316
 
1472 days
 
Dev ;)

: पेरिस हमले पर आज निदा फ़ाज़ली जी के ये शेर याद आ रहे हैं -

हर बार ये इल्ज़ाम रह गया..!
हर काम में कोई काम रह गया..!!
नमाज़ी उठ उठ कर चले गये मस्ज़िदों से..!
दहशतगरों के हाथ में इस्लाम रह गया..!!

खून किसी का भी गिरे यहां
नस्ल-ए-आदम का खून है आखिर
बच्चे सरहद पार के ही सही
किसी की छाती का सुकून है आखिर

ख़ून के नापाक ये धब्बे, ख़ुदा से कैसे छिपाओगे?
मासूमों के क़ब्र पर चढ़कर, कौन से जन्नत जाओगे?

कागज़ पर रख कर रोटियाँ, खाऊँ भी तो कैसे . . . . खून से लथपथ आता है, अखबार भी आजकल .

दिलेरी का हरगिज़ ये काम नहीं है
दहशत किसी मज़हब का पैगाम नहीं है ....!
तुम्हारी इबादत, तुम्हारा खुदा, तुम जानो..
हमें पक्का यकीन है ये कतई इस्लाम नहीं है....!!

 
126
 
940 days
 
Heart catcher

Hume bhi pyar krne ka khayal aaya...
Jab bhi yeh khayal aaya khud ko akela paya.
Dhundte rhe iss Duniya mei hum ek humsafar.
.
.
Par kisi ko Dhokebaz toh kisi ko Bewafa paya. :( :(

 
122
 
802 days
 
Atul Mehta

जिंदगी की राहों में मुस्कराते रहो हमेशा, क्योंकि उदास दिलों को हमदर्द तो मिलते हैं, हमसफ़र नहीं।

 
335
 
716 days
 
DDLJ143

Phool se pehle uski khusboo to dekho karne se pehle kaam ko to dekho Aapne toh yun mana kar diya hamare ikrar ko surat se pehle hamare dil ko to dekho..!

 
92
 
2013 days
 
Mohammed Nadeem

Na jane kyon woh mujhe muskura ker milti hai
Andar k sare gham Chupa k milti hai
Janti hai ankhen Sach Bool jati hain Shayad
isi liye ANKHEN jhuka ker milti hai

 
345
 
1936 days
 
F1

दर्द की जागीर मे रहने की ये ही एक शर्त है,

रात भर रोना और सुबह मुस्कुराना चाहिए ...!

 
186
 
855 days
 
SgrGohil

Hum Bewafa Her Giz Na They , Par Hum Wafa Kar Na Sake,
Hum Ko Mili Us Ki Saza ,Hum Jo Khata Kar Na Sake,

Kitni Akeli Theen Wo Raheen Hum Jin Pe,Ab Tak Akele Chalte Rahe
Tuj Se Bechar Kay Bhi O Bekhabar, Tere Hi Gham Mae Jalte Rahe

Tu Ne Kia Jo Shikwa,Hum Wo Gila Kar Sa Sake,
Hum Bewafa Her Giz Na They,Par Hum Wafa Kar Na Sake,

Tum Ne Jo Dekha Suna, Sach Tha Magar,Kitna Tha Sach Ye Kis Ko Pata,
Jane Tumhain Mae Ne Koi Dhoka Dia ,Jane Tumhain Koi Dhoka Hua,

Iss Pyar Mae Sach Jhoth Ka, Hum Faisla Kar Na Sake,
Hum Bewafa Her Giz Na They, Par Hum Wafa Kar Na Sake

 
66
 
2119 days
 
Peace_Maker

हर बार जो मेरा यूँ दिल दुखाती हो,पूछने पे कहती हो ~~ ये इश्क़ है,इश्क़ में इतना तो चला लेना चाहिए ।।

 
114
 
833 days
 
V!shu
LOADING MORE...
BACK TO TOP