Shayari (312 in 1 year | sorting by most liked)

*तुम्हारे साथ खामोश भी रहूँ तो बातें पूरी हो जाती हैं....!*

*तुम में, तुम से, तुम पर ही मेरी दुनिया पूरी हो जाती है....!!*🌹

 
362
 
342 days
 
N_i_l__u

*न बोलूँ , न लिखूँ ...*
*तो ये मत समझना ...*
*कि भूल गए हम ...;*

*खामोशियों ने भी ...*
*कुछ जिम्मेदारी ले रखी है ...*

 
351
 
275 days
 
Paraskumar Pande

राहत और चाहत में...बस फर्क है इतना...
राहत बस तुमसे है...और चाहत सिर्फ तुम्हारी..
💏

 
347
 
362 days
 
N_i_l__u

मुकम्मल कहाँ हुई,
जिन्दगी किसी की ..

आदमी कुछ खोता ही रहा,
कुछ पाने के लिए ..

 
339
 
353 days
 
Aksnice1

*कहाँ से लाऊँ वो लफ्ज़ जो सिर्फ तुझे सुनाई दे.....!!!!!*

*दुनियाँ देखे अपने चाँद को ; मुझे बस तू ही दिखाई दे..!!!!*💕

 
328
 
363 days
 
N_i_l__u

रूठ जाने के बाद गलती चाहे जिसकी भी हो,

बात शुरू वही करता है जिसको आप से बेपनाह मोहब्बत है..✍🏻

 
326
 
354 days
 
N_i_l__u

*ज़िन्दगी गुज़र रही है किरदार निभाते-निभाते,*

*...मैं कौन हूँ,ये सवाल आज भी है...!!*

 
310
 
238 days
 
Mits9022

*बड़े महँगे किरदार है ज़िंदगी में, जनाब..,*

*समय समय पर,, सबके भाव बढ़ जाते हैं..*

 
306
 
299 days
 
Paraskumar Pande

*हम तुम्हे कभी खुद से ...जुदा होने नही देंगे ....*

*तुम देर से मिले ........इतना नुकसान ही काफी है...*

 
292
 
325 days
 
N_i_l__u

चुभते हुए ख्वाबों से कह दो .. अब आया ना करे..!!

हम तन्हा तसल्ली से रहते है....बेकार उलझाया ना करे..!!

 
279
 
259 days
 
Paraskumar Pande
LOADING MORE...
BACK TO TOP