Shayari (821 in 1 year | sorting by most liked)

*एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब..*

*वरना पता तो हमें भी है की मरना अकेले ही है..!*

 
609
 
229 days
 
aaakash

हम रूठ भी जाएं तो ......हमें मनाएगा कौन,,

बस इसी फिक्र में ......खुश रहते हैं...!!

 
587
 
303 days
 
aaakash

*ये ना पूछना*

*ज़िन्दगी ख़ुशी कब देती है,*

*क्योकि शिकायते तो उन्हें भी है*

*जिन्हें ज़िन्दगी सब देती है*..

 
560
 
266 days
 
aaakash

ज़िन्दगी जीनी हैं तो तकलीफें तो होंगी...

.

.

वरना मरने के बाद तो जलने का भी एहसास नहीं होता...

 
559
 
283 days
 
aaakash

✍ *कुछ ख़ास बात नहीं है मुझमें,बस,मुझे समझने वाले ख़ास होते हैं..!*

 
507
 
344 days
 
DDLJ143

*बेचैनियां बाजार में, नहीं मिला करती यारों..*

*बाँटने वाला, कोई बहुत नज़दीकी होता है....*

 
477
 
227 days
 
Anonymous

कभी उम्मीदें उधड़ जायें तो
बेझिझक चले आइयेगा

हम हौसलों के दर्जी हैं
मुफ़्त में रफ़ू करते हैं.....

 
476
 
276 days
 
Jasmine

*मुझे महँगे तोहफ़े बहुत पसंद है...*




*अगली बार यूं करना ज़रा सा वक़्त ले आना...!!*

 
470
 
245 days
 
aaakash

खामोशियाँ बेवज़ह नही होती ।
कुछ दर्द , आवाज छीन लिया करते हैं।।

 
468
 
198 days
 
Toy

इतनी जगह तो बना ही ली है आपके दिलो में?????

कल को ना भी रहू तो भी याद तो करोगे..❤🌹

 
452
 
289 days
 
aaakash
LOADING MORE...
BACK TO TOP