Shayari (3 in 1 week | sorting by most liked)

कसक बनके बसे हो दिल मे....
साँस बनके बसते तो क्या बात होती....

 
81
 
6 days
 
uk_express

हम उन को सोच में गुम देख कर वापस चले आए
वो अपने ध्यान में बैठे हुए अच्छे लगे हम को

 
33
 
2 days
 
V!shu

सोच तो लूँ तुम्हें अपना बनाने की...
रूह से छूकर,
दिल मे उतर जाने की...
कहती है दुनिया...
फरिश्ते हैं कुछ इंसान के भेष में...
यूँ ना सोच इन्हें इतना ज़मीन से उठाने की...

 
26
 
a day
 
uk_express
LOADING MORE...
ALL MESSAGES LOADED
BACK TO TOP