Shayari (3 in 1 day | sorting by most liked)

*जो सामने जिक्र नहीं करते,*

*वो अंदर ही अंदर बहुत फ़िक्र करते है !!*

 
84
 
12 hours
 
aaakash

*कैसी मुहब्बत हैं तेरी ! महफ़िल में मिले तो अन्जान*💖💖 *कह दिया* 💖😘

*तन्हा ज़ो मिले तो जान कह दिया...*
😘😘😘💖💖

 
73
 
12 hours
 
prince j

*चलो फिर से शायरियों में कुछ बात हो जाए,*

*दो पल की ही सही एक मुकम्मल मुलाकात हो जाए..*

 
60
 
12 hours
 
aaakash
LOADING MORE...
ALL MESSAGES LOADED
BACK TO TOP