Jainism (553 | sorted randomly)

🙏 Jai Jinendra 🙏
Date : 17th July, 2015
Thithi : Ekkam ( 1 )

Tip For The Day :
Jai Mahaveer ka ek mala fere.
5 min. ke liye moan rahe.
Cold drinks ka tyaag kare.
Lassi / Buttermilk ka tyaag kare.

🙏 Jai Jinendra 🙏

Thought For The Day :

If u feel the whole world is against you,
Fine !!
Just turn back n take a selfie.
The world will be with you!!
Be positive and enjoy because life is
beautiful!

Fact/Information For The Day :

Rishab Dev, Our First Tirthankar, Had 100 sons and 2 Daughters. Amongst those 100, Bharat, the eldest son and Bahubali, The younger one are more popular.
They had a fight for the Kingdom after the Diksha of Rishab Dev.
98 of the 100 gave up their Kingdom and took Diksha. Whereas there were disputes amongst Bharat and Bahubali for the Name of The Most Powerful in the World. They decided for a War, but thought that it was just a dispute amongst the two, Why to kill so many innocent people. Hence they decided to have Dual Fights. During the fight, Bahubali lifted his Hand in order to hit Bharat, the moment he raised his hands, he realised his mistake that he was gonna hit his elder brother and rather than puting his hand down, he just plucked his Hairs and Loached himself. And took Diksha....

 
6
 
762 days
 
Sunil Lalwani

*जरूरी नही की*
*हर समय जुबा पर*
*भगवान का नाम आये*

*वो लम्हा भी भक्ति*
*का होता है, जब*
*इंसान - इंसान के काम आये।* 🏻
जय जिनेन्द्र

 
96
 
148 days
 
N.v.jain

👉💥🔴 अगर आप जैन हे तो जरुर पढे समझे और मंथन करें ........
☀जैन बहिनों क्यों भाग जाती हो अजैन लडको के साथ☀

💖अजैन लड़के के साथ भागने के पहले एक बार सोचे :-

⭐ क्या आपका जन्म जैन कुल में नहीं हुआ ?
⭐क्या जैन कहलाना अच्छा नहीं लगता ?
⭐क्या आप नारी शक्ति को नहीं जानती ?
⭐क्या आप चाहती हैं कि जैन कुल धीरे धीरे खत्म हो जाए ?
⭐क्या आप नहीं जानती कि जैन धर्म जैसा कोई धर्म नहीं है ?
⭐क्यो आप जैन समाज में आपके लायक लडका नहीं देखती ?
⭐जैन समाज में लडकों की नहीं लडकियों की कमी है।

🔴🔮 कभी आप ने ये सोचा हे :-

⭐क्या आपने कभी अपनी माँ के 9 माह तक पेट में पालने की पीडा को महसूस किया या उनसे जानने का प्रयास किया ?

⭐क्या आप शादी के बाद किसी कि माँ नहीं बनेगी ?

⭐अगर आपकी होने वाली लडकी ने भी आपके साथ भी वही किया जो आप कर चुकी हो या करने वाली हो तो आप सहन कर पाओगी ?

⭐क्या आप ओर आप का परिवार समाज में मुँह दिखाने लायक रहोगी ?

⭐क्या यह तय है क्या कि आप अजैन से शादी करके हमेशा खुशी से रह पाएंगी ?

⭐अगर शादी के बाद पता चला कि आपकी तरह और भी लडकी है उसकी जिंदगी में, तो आप क्या करेंगी?

🔴⭐आपकी इस हरकत से सदमा खाकर आपके माँ-बाप न रहे और अजैन ने दुःख दिया या उसकी जिंदगी में कोई और भी हैं पता चलेगा तो किसके पास जाओगी?

🔴⭐आप क्यों भूल जाती हो कि माँ-बाप खुद भूखे सो गए होंगे लेकिन आपको कभी भूखा नहीं रखा ?

⭐आप क्यों भूल जाती हो कि माँ-बाप ने आपकी हर ख्वाहिश को पूरा करने के लिए कितने ही पापड बेले, लेकिन कभी आपको अलग नहीं किया ?
🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷
🔴 ⭐क्या आपने आपके पिता को मेहनत करते नहीं देखा?

⭐क्या आप नहीं जानती कि पिता ने मेहनत करके जो कमाया वो उन्होंने आपके मौज शोक, शिक्षा पर ही तो खर्च किया?

🔴⭐क्या आपके माँ-बाप ने आपके लिए लाखों खर्च करने के बाद आपसे उम्मीद लगाई की बडी होकर हमारा नाम रोशन करेगी वो सपना मात्र सपना ही रखना चाहती हो ?

⭐क्या माँ-बाप के जीवन में रोशनी की जगह बदनामी का जहर घोलकर उन्हें जिते जी मारना चाहती हो ?

⭐क्या आप यह चाहती हो कि जैन समाज का हर व्यक्ति आपके माँ-बाप परिवारजनों को को ये कहे कि संस्कारों की कमी से लडकी अजैन के साथ भाग गई और जो हमेशा सर उठाकर चलते थे वो हमेशा सर झुकाकर चले।

⭐क्या आप यह चाहती हो कि अजैन समाज का हर व्यक्ति भी आपके माँ-बाप पर परवरिश में कमी का लांछन डाले, और कहे कि लडकी भाग गई और अजैनो के सामने भी हमेशा सर झुकाकर चलना पडे ?
👌👌👌👌👌👌👌👌👌
🔴🙏. 🙏🙏🔴
🔴प्यारी बहिनों पुण्यशाली हो कि जैन कुल और धर्म मिला है।
मनुष्य जीवन एक ही बार मिलता है।
जो माँ-बाप इस जन्म में मिले हैं वो हर जन्म में नही मिलने वाले हैं ये कभी मत भूलना।
🔴 माँ-बाप के दिल को दूखा कर जिंदगी में कभी खुश नहीं रह पाओगी।
आशा एवं विश्वास करते हैं कि हमने जो भावना आप तक पहुंचाने का प्रयास किया है, उसे समझ कर आप अपने माँ-बाप, परिवार के साथ-साथ जैन धर्म के हितो की रक्षा में सहयोग प्रदान करेंगी।
🙌🙌🙌🙌🙌🙌🙌🙌🙌

👐अगर आप को ये मेसेज अच्छा लगे तो आगे भी भेजे 👐
और पसंद न आया हो तो यही के यही के यही डिलीट करे ।💥🙏🙏

 
72
 
538 days
 
B P S R

🙏🏻 Jai Jinendra 🙏🏻
Date : 23rd October, 2016
Thithi : Attam ( 8 )

Tip For The Day :
• Jaminkhand, Harivanaspati, Ratri bojan ka tyaag avam Bramachaarya ka palan kare.
• Navkar mantra ki ek mala fere.
• Kisi ek vigai ka tyaag kare.

🙏🏻 Jai Mahaveer 🙏🏻

 
12
 
298 days
 
Sunil Lalwani

🙏 Jai Jinendra 🙏
Date : 2nd August, 2015
Thithi : Beej ( 2 )

Tip For The Day :
Navkar Mantra ka ek mala fere.
Samayik avam Pratikraman kare.
Bhook se kam khaana khaaye. ( Jitna Bhook ho, usse thoda kam khaayiye, Its a Tapp too)
Thaali dhoke piye.
Ice cream ka kya kare.

🙏 Jai Mahaveer 🙏

Fact/Information For The Day :

Any idea why is our Jain dharam the best? Because it's the only Dharam that let's us gain our Hell or Heaven just by our thoughts ( Bhaav ) and deeds.
Thoughts can be of two types. Positive/Good and Negative/Bad.
Just by us thinking, we make our way to Narak or Moksh.
For example, if you just think in your mind, just THINK, that you'd do Upwaas tomo or you have Bhaav for it, then it means you have gained the punya of Upwaas, that too just by thoughts and not by doing it. ( If you aren't able to do)
And if you think like eating Jaminkhand tomo or have any bad intensional like Murder (Example ) etc. It means you have done a Murder and It will lead us to hell.
In hindi :
"Agar Upwaas ka bhaav rakthe hein, chahe kare ya na kare, uska Fal mil jaata he, aise hi agar kisi ke prati Murder ka bhaav aajaye toh Hume bina Murder kiye uske paap lag jaata he. "
This is the only Religion that depends even upon how you think. We can gain Good Gathi by Bhaav itself....
Isn't it Superb?

 
18
 
746 days
 
Sunil Lalwani

👣 *आचार्य विद्यासागर जी के चातुर्मास के लिए राज्य सरकार ने बनाई कमेटी* 👣

*आचार्य श्री का ध्यान किए बगैर मेरी पूजा पूरी नहीं होती : शिवराज सिंह चौहान*

भोपाल:-

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जैन संत आचार्य विद्यासागर जी महाराज के भोपाल में संभावित चातुर्मास की तैयारियों के लिए वित्त मंत्री जयंत मलैया की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी में मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव इकबाल सिंह बैस भी होंगे। यह कमेटी आचार्यश्री की अगवानी पर चातुर्मास की व्यवस्थाओं को लेकर राज्य शासन की और से हर संभव सहयोग करेगी तथा मुख्यमंत्री को रिपोर्ट भी करेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को मंत्रालय में जैन समाज के प्रतिनिधि मंडल के साथ आचार्य श्री के संभावित चातुर्मास की तैयारियों की समीक्षा भी की। 

आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के भोपाल आगमन को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान काफी उत्साहित दिखाई दिए। उन्होंने भावुक होकर कहा कि मेरी सुबह की पूजा आचार्य विद्यासागर जी महाराज का ध्यान किए बगैर कभी पूरी नहीं हुई।  मुख्यमंत्री ने जैन समाज के प्रतिनिधि मंडल के साथ आचार्य श्री की अगवानी और चातुर्मास की समीक्षा की तथा जयंत मलैया और इकबाल सिंह बैस को निर्देश दिए कि वे जैन समाज  और जिला प्रशासन के साथ बैठक कर आचार्यश्री के चातुर्मास के दौरान राज्य शासन की और से सभी  व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। जैन समाज के प्रतिनिधि मंडल ने जयंत मलैया के अलावा श्रीमती सुधा मलैया, भोपाल जैन समाज के अध्यक्ष प्रमोद जैन हिमांशु, पूर्व अध्यक्ष महेश सिंघई, पंकज जैन, रवीन्द्र जैन पत्रकार, मनोहरलाल टोंग्या, नितिन नांदगांवकर, शरद जैन, मनोज प्रधान, देवेन्द्र जैन रूचि, सुनील जैन 501, मनोज जैन एमके इंडिया, मनोज जैन एमआर आदि शामिल थे। 

*पुलिस अधीक्षक ने की आचार्यश्री की अगवानी*

दूसरी और आचार्य विद्यासागर महाराज का संघ मंगलवार को सुबह सागर से पद विहार करता हुआ विदिशा जिले की सीमा में प्रवेश हुआ। विदिशा पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र चौधरी ने बगरोदा चौराहे पर आचार्यश्री के संघ की अगवानी की। आचार्य श्री के साथ लगभग 40 मुनि और हजारों की तादात में लोग पद विहार कर रहे हैं। मंगलवार की शाम को आचार्यश्री रात्रि विश्राम ग्यारसपुर में करेंगे। भोपाल से आदित्य जैन मन्या, राजेश जैन कोयलेवाले, संतोष मोदी आचार्यश्री के साथ चल रहे सभी लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था संभाले हुए हैं। सोमवार को भोपाल के दानवीर प्रदीप जैन मामा ने आचार्यश्री के साथ लगभग 4 किलोमीटर तक पद विहार किया और उन्हें भोपाल के लिए आमंत्रित किया। बैरागढ़ से एससी जैन के नेतृत्व में गये प्रतिनिधि मंडल ने आचार्यश्री को श्रीफल भेंट किया। भोपाल जैन समाज की और से अशोक सिंघई, अरविंद जैन सुपारी, मनोज जैन बागा आदि आचार्यश्री के विहार में साथ चल रहे हैं। सागर के समाजसेवी मुकेश जैन ढाना ने आचार्यश्री को भोपाल तक विहार कराने का संकल्प लिया है। 

बोलो आचार्यश्री की ,
सच्चे मन से जय जयकार।।

🙏🏻 *नमोस्तु आचार्य भगवान*🙏🏻

 
37
 
399 days
 
dre@m_factory

📯📇 कल का पंचांग 📇📯


श्री आत्म - वल्लभ - समुद्र -
इन्द्र सदगुरुभ्यो नम:


✏मुंबई--दिल्ली समयानुसार✏
🏧♈⛎

🌀तारीख :16 अप्रैल 2016
🌀वार : शनिवार
🌀पक्ष: चैत्र【सुदि】
🌀तिथि: दशमी【10】
➖➖➖➖➖➖➖➖
👉शाश्वती आयम्बिल ओळी तप
(तृतीय दिवस-आचार्य पद)
➖➖➖➖➖➖➖➖
🌞 सूर्योदय :06:21am (05:54)
🌚 सुर्यास्त :06:56pm (06:48)
🌞 सूर्योदय :05:56am (चेन्नई)
🌚 सुर्यास्त : 06:22pm (चेन्नई)
🌞 सूर्योदय :06:06am(बेंगलोर)
🌚 सुर्यास्त :06:33pm(बेंगलोर)
➖➖➖➖➖➖➖➖
🌐 【जैन वीर संवंत : 2542】
🌐【 विक्रम संवंत : 2073】
🌐【 वल्लभ सवंत :62】
🌐【आत्म वल्लभ उपवन】
➖➖➖➖➖➖➖➖
⏳ पच्चखान का समय ⌛
👥नवकारशी: 07:09(06:42)
👥पोरिसी : 09:30am(09:07)
👥नवकारशी :06:54am(बेंगलोर)
👥नवकारशी :06:44am(चेन्नई)
➖➖➖➖➖➖➖➖
⛅ शुभ चौघड़िय े⛅
🏧शुभ:07:55am -09:29am
{07:31===09:08}
♈लाभ:02:13pm-03:47pm
{01:58===03:35}
⛎अमृत:03:47pm -05:22pm
{03:35===05:12}
🏧लाभ :06:56pm -08:22pm
{06:48===08:12}
♈शुभ :09:47pm -11:13pm
{09:35====10:58}
⛎अमृत:11:13pm -12:38am
{10:58===12:21}
➖➖➖➖➖➖➖➖
विशेष सुचना---{00:00} में लिखा
समय दिल्ली समयनुसार है।

🙌🙌🙌
गुरु आत्म वल्लभ की कृपा हम
सब पर हमेशा बनी रहे।
🙌🙌🙌




🌹आत्म - वल्लभ उपवन🌹

 
12
 
488 days
 
Vin699

🙏 Jai Jinendra 🙏
Date : 9th June 2015
Thithi : Saatham ( 7 )

Tip For The Day :
Ice Cream avam Cold Drinks ka tyaag kare.
Ghar pe sab ko pranam kare.
5 Vastra se adik ka tyaag kare.

🙏 Jai Mahaveer 🙏

Thought For The Day :

Today is the first day of the rest of your life. So , draw a line to your past , and press your speed button into your future!

 
5
 
800 days
 
Sunil Lalwani

🙏🏻 Jai Jinendra 🙏🏻
Date : 22nd June, 2016
Thithi : Beej ( 2 )

Tip For The Day :
• "Ajit Nataya Namah" ki ek mala fere.
• Jalebi, Jamun, Jackfruit, Juices (Cold drinks) ka tyaag kare.
• 2 Namotthunam ka dyaan kare.
• Kisi gareeb ko khana de.

🙏🏻 Jai Mahaveer 🙏🏻

Fact For The Day :

Krishna and Raavan, presently who are in hell for their deeds in that birth will become Thirtankars in the next set of 24 Thirtankars.
So never abuse Krishna, and Also Raavan for kidnapping Sita and for his bad deeds. He was one of the bravest and intelligent (Gyaani) person of those times.
Gods they are gonna be, so lets not think bad about them, else we will commit one of the biggest sin of Abusing a Thirtankar .

Lets be careful the next time!

 
16
 
421 days
 
Sunil Lalwani

जीवरक्षा का भाव धर्मी जीव को सहज होता ही है।

इशारा है रात्रिभोजन त्याग का

समझदार को.....

टीम वीर गुरुदेव

 
11
 
41 days
 
Sunil Lalwani
LOADING MORE...
BACK TO TOP