Hurt/Sad (10911)

तभी तक पूछे जाओगे जब तक काम आओगे.,
चिरागों के जलते ही बुझा दी जाती हैं तीलियाँ.!

 
65
 
a day
 
Jasmine

तुम से अच्छा तो गूगल है,
जो लिखने से पहले दिल की बात समज लेता है।😢💔

 
132
 
2 days
 
"Am@rdeep"#

लिख लिख पाती 🖌🌨भेजूं पिया को
कि सावन आया 🌧घर आ जाओ

अगन लगी तन में🔥 पिया
अब प्रेम फुहार कुछ बरसा जाओ
💋💕
सावन तुम बिन बीत ना जाए 🌈
परदेसी इस बार गले लगा जाओ
🙊
मन मयूर नाचे घर आंगन
लौट आओ,💞💝
हमे न सताओ

बिजुरी चमके⚡तड़पे मन तुम बिन
लौटोगे कब,लिख पाती हमें बताओ

💕💞💋💝

 
39
 
3 days
 
Jain Rajendra

अब छोड़ दिया है "इश्क़" का "स्कूल" हमने भी
हमसे अब "मोहब्बत" की "फीस" अदा नही होती😢

 
183
 
4 days
 
"Am@rdeep"#

प्यार तो कई बार किया जिंदगी में.,
पर मिला उससे, जिसे किया ना था.!

 
114
 
5 days
 
Jasmine

कसूर तो बहुत किये थे, ज़िन्दगी में...
पर सज़ा वहाँ मिली, जहाँ बेकुसूर थे.!

 
297
 
5 days
 
Jasmine

मैने उसके लिए ख्वाब देखे,
पर उसने मुझे दुश्वारियाँ दी ...
अँधेरे में दीपक की ज्योति ना बन पाई,
मेरे साथ मेरे परिवार को भी गालियाँ दी ...

मैने बदला उसके लिए,
माँ के हाथ के खाने का बाईस बरस का साथ ...
उसने मुझे दुत्कार, मानसिक यात्नाएँ,
बेमतलब प्रताड़नाएँ और धूल में लाठियाँ दी ...

उसकी हर बात और जिद को,
पूरा किया सदा ही मैने बे-बहस ...
पर उसने नर्म स्वभाव के व्यक्ति को,
अपने पुराने घर से धमकियाँ और जालसाजियाँ दी ...

दोनो हाथ जो अभ्यस्त थे मेरे,
देवताओं के आगे जुड़ने के लिए ...
इतना सताया कि उन्हीं हाथों में,
उसने शराब़ की प्यालियाँ दी ...

बुलंद इमारत भी ढह जाती है,
हर रोज़ की बारिश और वजन से ...
उसने एक सरल इन्सान को,
हजारों जुर्मों की जिम्मेदारियाँ दी॥

 
40
 
7 days
 
Heart catcher

एक रिश्ता जो मुँह बोला था
उसका भी तुमने तिरस्कार किया
छोड़ कर दुर चले गये.😑💔.....
ये कैसा तुम्हारा प्यार हुआ.😏....

 
127
 
8 days
 
"Ipsh!t@"

कभी - कभार ही सही पर जिक्र किया करो ,,,,
जो लोग पराये हैं उनकी भी फिक्र किया करो...😢

 
191
 
8 days
 
"Am@rdeep"#

हालत मेरी अब ये हो गई है...
जैसे कोई चीज़ खो गई है...😔

 
273
 
10 days
 
"Ipsh!t@"
LOADING MORE...
BACK TO TOP