Message # 464162

मोहब्बत की "बारिशों" से कहो ज़रा "ज़ोर" से बरसे...


नफरतों के "आईनों" पर बड़ी "धूल" जमी है...

BACK TO TOP