Message # 461650

वो ज़िद लगाए की ख्वाबों में मिलूं
उनकी यादें है की सोने नही देतीं

 
69
 
96 days
 
Paraskumar Pande
BACK TO TOP