Message # 460201

अब सोचता हूं तो पछतावा होता है,
आखिर क्यों देखी वो मुस्कान जिस पर दिल फिदा हुआ 💕

 
93
 
74 days
 
Almost shayar
BACK TO TOP