Message # 458868

कल गुप्ता जी अपने बेटे के साथ डॉक्टर के पास जा रहा था।
ट्रैफिक बहुत होने की वजह से काफी ग़ुस्से में था..
कभी कोई स्कूटर वाला गलत आता तो कभी कोई बाइक वाला..
गुप्ता जी सभी को गाली देता की मादरचोद कोई गाड़ी चलाना नही जानता।
गुप्ता जी ने देखा कि उसका बेटा ये सब ध्यान से देख रहा था
और शायद उसके मन में अनेकों सवाल चल रहे हैं।
गुप्ता जी को अपनी गलती का अहसास हुआ और
अपनी गलती को छुपाते हुवे उसने पूछा..
बेटा क्या हुआ ????
बच्चे ने बड़े ही शांत होकर ऐसा जवाब दिया
कि गुप्ता जी के नेचर को ही बदल दिया
और उसे ये भी एहसास हुआ कि बच्चे कब बड़े हो जाते है पता ही नही चलता ।
बच्चे का जवाब था...
"पापा आप जो ये चलते फिरते गाली देते हो ना..
किसी दिन कोई आपकी ऐसी गांड तोड़ेगा,
ऐसी गांड तोड़ेगा कि मुंह से गाली निकलने से पहले ही गांड बोल उठेगी की भोसडी के फिर तुड़वाएगा क्या।
😹😹😹

BACK TO TOP