Message # 457031

दब गई थी नींद कहीं करवटों के बीच,. ..
...

दर पर खड़े रहे कुछ ख्वाब रात भर,.....

 
127
 
17 days
 
Paraskumar Pande
BACK TO TOP