Message # 451403

इस SC-ST एक्ट को लागू रहने देना चाहिए या इसका विरोध करना चाहिए,ये तो बाद कि बात है।पहले,
इस SC-ST एक्ट वाले मशले पर उन नेताओं का स्टैंड तो जान लीजिए,जो स्वयं तो सवर्ण जाति से हैं और भाजपा से भी नहीं हैं मगर खुद को दलितों और अल्प-संख्यकों का मशीहा साबित करने में हमेशा तत्पर रहते हैं, जो हमेशा भोंकते रहते थे कि भाजपा,दलित-विरोधी पार्टी है।
,
,
दिमाग देख रहे हो बन्दे का।वो योंही *प्राइम-मिनिस्टर* नहीं बना है।

BACK TO TOP