Message # 451197

*ताक़त और पैसा ज़िन्दगी के फल हैं।*
*जबकि*
*परिवार और मित्र जिन्दगी की जड़ हैं।।*

*हम फल के बिना अपने आप को चला सकते हैं।*
*लेकिन*
*जड़ के बिना खड़े भी नहीं हो सकते है।।*
🌹 💐 🌻 🌹🙏

BACK TO TOP