Message # 450758

*दोस्ती में ही "ताकत" है साहेब..*
*"समर्थ" को झुकाने की...*

*बाकी "सुदामा" में कहाँ ताकत थी..*
*"श्रीकृष्ण" से पैर धुलवाने की...!!!*
💐💐 💐💐

BACK TO TOP