Message # 450649

🙏🏻💐🌹 🙏🏻🌷.
✍🕉👇🏻

*चिंता से चतुराई घटे,*
*घटे रूप और ज्ञान।*
*चिंता बड़ी अभागिनी,*
*चिंता चित्ता सामान।*
*तुलसी भरोसे राम के,*
*निर्भय हो के सोय।*
*अनहोनी होनी नहीं,*
*होनी होय सो होय।. 🙏🙏🙏🙏🙏🙏

BACK TO TOP