Message # 449632

मुकाम औरत का फिर जान गया वो...

बना था बाप जब वो एक बेटी का...

BACK TO TOP