Message # 444623

*उस शाम तुमने मुड़कर मुझे देखा जब..*

यूँ लगा जैसे हर दुआ कुबूल हो गयी

BACK TO TOP