Message # 443365

🌷फ़िक्र* में रहते हैं
तो *ख़ुद* जलते हैं
बेफ़िक्र* रहते हैं
तो *दुनिया* जलती है🌷

BACK TO TOP