Message # 442474

कहता है महफूज रहे वो, घर में बंद किवाड़ो मे..
बता द्रौपदी! कहाँ लुटी थी? घर मे कि बाजारो मे !!

BACK TO TOP