Message # 439653

वो भी क्या दिन थे 🏃‍♂जिंदगी ने ऐसी चाबी भरी की खुद से भौत दूर निकल गए
काश के वो दिन लोट के आये 😔

BACK TO TOP