Message # 438696

आजकल की रिश्तेदारी ऐसी है...
अपने वाले रिश्ते निभते नहीं.,
और बनाये वाले छूटते नहीं...!

BACK TO TOP