Message # 437866

टूटकर चाहने वाले टूट जाते हैं




और



दगाबाजों के बिस्तर पर मोहब्बत नाचती है....

😔😔😔😔

BACK TO TOP