Message # 437673

ग़लत को ग़लत और सही को सही
कहने का दम रखता हूँ...(rrbs)
तभी आज कल मैं रिश्ते कम रखता हूँ...!!!~!~

BACK TO TOP