Message # 433191

जब वह मेन्यू कार्ड से कोई डिश पसंद कर रही हो तो उसे पसंद करने दें।घर में हर रोज, हर बार का भोजन बनाने के लिये वह अपना काफी समय सिर्फ इसलिये देती है कि क्या बनाना है, कितना बनाना है और किसके लिये बनाना है।

जब वह बाहर जाने के समय तैयार होने के लिये समय ले रही हो तो लेने दें। उसने अपना समय आपके प्रेस किये कपडो़ं को जगह पर संभाल कर रखने में, आपके बेतरतीब रखे मोजों व रुमालों को सहजने में, दिया है। वह अपने बच्चे को संवारने के लिये भी बहुत मेहनत करती है ताकि वह अडो़स पडो़स के सब बच्चों से अच्छा दिख सके।

🌹🌹🌹🌺🌺🌺👏👏जब वह अपना मनपसंद और हमारी नजर में बेसिरपैर का टीवी सीरियल देखती है तो देखने दें। उसका उस सीरियल में तो ध्यान आधा ही रहता है, बाकी का ध्यान तो दिमाग में चल रही घडी़ पर रहता है, जो उसे भोजन का समय आते ही उसका प्रिय सीरियल अधूरा छोड़ कर रसोईघर की तरफ भेज देती है।

जब वह सुबह का नाश्ता बनाने में समय लगा रही हो तो उसे लगाने दें। क्योंकि वह सबसे बढि़या और कुरकुरे सिंके टोस्ट सबको दे रही है और ज्यादा सिंके व जले टोस्ट खुद के लिये अलग कर रख रही है।

जब वह चाय का कप हाथ में ले कर खिड़की के बाहर शून्य में निहार रही हो तो उसे निहारने दें। ये उसका जीवन है, उसने अपने जीवन के अनमोल व अनगिनत घंटे आपको दिये हैं। अब यदि वह अपने जीवन के कुछ पल स्वयं के लिये लेना चाहती है तो लेने दें।

उसका जीवन दूसरों के लिये भागादौडी़ में ही बीत रहा है। कृपया उसे और ज्यादा तेज भागने के लिये मजबूर न करें।
नारी शक्ति को नमन*🌺🌹🌺🌹🙏🙏

Comments

@Mrjha [3]: yes it happens, remain calm & observe the main female of the house. Exception r always there but rest is true
 
Jasmine
 
80 days
4
@Jasmine: aisa really m hota v hai kya 😂

 
Mrjha
 
80 days
3
@SPARSH [1]: thanks 🙏
 
Jasmine
 
81 days
2
@Jasmine: 👌🙏
 
SPARSH
 
81 days
1
LOADING MORE COMMENTS...
BACK TO TOP