Message # 431299

राक्षसो पे *पुण्य की जीत,*

राम की सीता से *असीमित प्रीत*

ये तो एक कारण भर ही था..

हो *विजय सत्य की* सदैव,

*यही है रीत..॥*

*आपके और आपके परिवार को*
*दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएँ*

🚩 *॥ शुभ दशहरा ॥* 🚩

🙏 *॥ जय श्री राम ॥* 🙏

BACK TO TOP