Message # 417718

__सुन्नो__😍💏
हाथो_की_ लकीरें_ मिट_ सकती_हैं,
पर_ तेरे_मेरे_ प्यार_ की_मंज़िले_नहीं,,,

 
579
 
66 days
 
anil Manawat
BACK TO TOP